भारत का भूगोल की समान्य जानकारी, (Indian Geography in Hindi)

हेलो दोस्तों, हमारे इस Blog में आपका स्वागत है, हमारे इस ब्लॉग में आपको भारत का भूगोल की समान्य जानकारी, (Indian Geography in Hindi) की समान्य जानकारी, उत्तरी पर्वतीय मैदान, विशाल मैदान, प्रायद्वीपीय पठार, मरुस्थलीय प्रदेश, समुंद्रतटीय मैदान आदि इन सबके बारे में पड़ेंगे !

सम्पूर्ण भारत का भूगोल (Indian Geography in Hindi)


 

भारत का भूगोल ( Indian Geography in Hindi ) की समान्य जानकारी
भारत का भूगोल (Indian Geography in Hindi)

भारत का क्षेत्रफल 32 लाख 87 हजार 263 वर्ग कि.मी. है !

क्षेत्रफल के दृष्टिकोण से भारत विश्व का 7 वां सबसे बड़ा देश है !

जनसंख्या के दृष्टिकोण से यह विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है !

क्षेत्रफल के दृष्टि से भारत से बड़े 6 देश है – रूस , कनाडा, चीन, अमेरिका, ब्राज़ील एवं औस्ट्रेलिया !

भारत का क्षेत्रफल सम्पूर्ण विश्व के क्षेत्रफल का 2.42 % हैं जबकि जनसंख्या सम्पूर्ण विश्व की जनसंख्या का 17.5 % है !

जनसंख्या की दृष्टि से विश्व के 8 बड़े देश है – चीन, भारत, अमेरिका, इंडोनेशिया, ब्राज़ील, पाकिस्तान !

भारत का उत्तर से दक्षिण में विस्तार 3241 कि.मी. है व पूरब से पश्चिम में विस्तार 2933 कि.मी. है !

इसकी {भारत} की स्थल-सीमा की लम्बाई 15200 कि.मी. है !

भारत के कुल 17 राज्य पड़ोसी देश की सीमा से जुड़ते है !

इसके तटीय भाग की लम्बाई 7516.6 कि.मी. है !

भारत की जलीय सीमा/समुंद्री सीमा से सटे देश – पाकिस्तान, मालदीप, श्रीलंका, बांग्लादेश, म्यांमार, थाईलैंड, इंडोनेशिया !

इसकी जल एवं स्थल सीमा से लगे देश – बांग्लादेश, म्यांमार और पाकिस्तान !

भारत का सबसे दक्षिणी बिंदु इन्दिरा पॉइन्ट है यह बृहत निकोबार द्वीप में स्थित है !

पहले इसका नाम पिगमिलियन पॉइंट था यह भूमध्य रेखा से 846 कि.मी. दूर है !

भारत के सबसे उत्तरी बिंदु इन्दिरा कॉल है जो जम्मू-कश्मीर राज्य में है !

पश्चिम बिंदु सरक्रीक { गुजरात } में तथा पूर्वी बिंदु वालांगु { अरुणाचल प्रदेश } में है !

कोलाबा प्वाइंट मुम्बई में , प्वाइंट कालीमेरे तमिलनाडु में एवं प्वाइंट पेड्रो जाफना श्रीलंका के उत्तर पूर्व में है !

भारत एवं चीन की सिमा को मैकमोहन रेखा कहते है यह रेखा 1914 ई. में शिमला में निर्धारित की गयी है !

पटकाई की पहाड़ियाँ भारत को म्यांमार से अलग करती है !

भारत एवं अफगानिस्तान के बीच डुरंड रेखा है लेकिन अब यह रेखा अफगानिस्तान एवं पाकिस्तान के बीच है !

दक्षिण में श्रीलंका भारत से पाक जलसंधि तथा मन्नार की खाड़ी द्वारा अलग होता है !

भारत और पाकिस्तान के बीच रेडक्लिफ रेखा है जो 15 अगस्त 1947 को c. j. redclif द्वारा निर्धारित की गयी है !

पाक जलडमरू मध्य में ही राम सेतु स्थित है !

श्रीलंका के बाद भारत का दूसरा निकटतम समुंद्री पड़ोसी देश इंडोनेशिया है !

भारत और नेपाल के मध्य काली नदी सिमा बनाती है !

कर्क रेखा भारत के 8 राज्यों के मध्य से गुजरती है !

इस कर्क रेखा से गुजरने वाले राज्य – राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, प. बंगाल, त्रिपुरा एवं मिजोरम !

पृथ्वी की चुंबकीय विषुवत रेखा दक्षिण भारत में त्रिवेंद्रम से गुजरती है !

भारतीय उपमहाद्वीप में सम्मिलित देश है – भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और भूटान !

सर्वाधिक राज्यों की सीमाओं से लगा राज्य उत्तर प्रदेश है इसकी सीमा 8 राज्यों से लगी है !

भारतीय राज्यों में गुजरात राज्य की तटरेखा सर्वाधिक लम्बी है { 1663 कि.मी.} !

पाकिस्तान की सिमा पर लगे 4 भारतीय राज्य – जम्मू-कश्मीर, राजस्थान, गुजरात, पंजाब !

सिक्किम की सीमा नेपाल, भूटान और चीन से मिलती है !

तीनो और से बांग्लादेश से घिरा राज्य त्रिपुरा है !

संकोश नदी असम और अरुणाचल प्रदेश के बिच सीमा बनाती है !

जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में स्थित कराकोरम दर्रा भारत का सबसे ऊँचा दर्रा है  { 5624 मीटर } !


बुर्जिल दर्रा श्रीनगर से गिलगित को जोड़ती है !

बनिहाल दर्रे से जम्मू से श्रीनगर जाने का मार्ग गुजरता है जवाहर सुरंग इसी में स्थित है !

तुजू दर्रा भारत और म्यांमार को जोड़ता है !

शिपकिला दर्रा शिमला से तिब्बत को जोड़ता है !

जीवित जड़ पुल मेघालय में पाया जाता है !

तीन अर्द्ध-चन्द्राकर समुन्द्र तट कन्याकुमारी में मिलते है।


भारत का भूगोल का भौगोलिक स्वरुप (Indian Geography in Hindi)


भौतिक रचना तथा धरातल के स्वरुप के अनुसार भारत को 5 भागो में बांटा है !

1. उत्तरी पर्वतीय मैदान

2. विशाल मैदान

3. प्रायद्वीपीय पठार

4. मरुस्थलीय प्रदेश

5. समुंद्रतटीय मैदान

भू-वैज्ञानिक के आधार पर जहां आज हिमालय पहाड़ है वहां टीथिस नामक उथला समुन्द्र था !


 उत्तर के पर्वतीय क्षेत्र को 4 प्रमुख समांतर पर्वत श्रेणी क्षेत्रो में बांटा जा सकता है !

1. ट्रांस हिमालय क्षेत्र (Trans Himalaya in hindi)

इसके अन्तर्गत काराकोरम, लद्दाख, जास्कर आदि पर्वत श्रेणियाँ आती है K-2 या गॉडविन ऑस्टीज

भारत की सबसे ऊँची चोटी है काराकोरम इसी क्षेत्र में स्थित है !

कश्मीर हिमालय करेवा के लिए प्रसिद्ध है जहाँ जाफरान की खेती की जाती है !

बृहत हिमालय में जोजीला, पीरपंजाल में बानिहाल, जास्कर श्रेणी में फोटुला, लद्दाख श्रेणी में खर्दुंगला जैसे दर्रे स्थित है !

कश्मीर हिमालय क्षेत्र में ही मीठे जल की झील डल एवं वुलर एवं खारे जल झील पांगोंग सो और सोमूरीरी स्थित है !

वैष्णो देवी, अमरनाथ गुफा और चरार-ए-शरीफ जैसी तीर्थस्थान कश्मीर या उत्तरी पख्चिमी हिमालय में ही स्थित है !

2. हिमाद्रि अर्थात सर्वोच्च या वृहत हिमालय (Himadri Himalaya in hindi)

यह हिमालय सबसे ऊँची श्रेणी है इसकी ओसत ऊँचाई 6000 मी. है !

विश्व की सबसे ऊँची चोटी एवरेस्ट इसी पर्वत-श्रेणी में स्थित है !

कंचनजंघा, नंगापर्वत, नंदादेवी, कॉमेट एवं नामचाबरवा आदि इसी पर्वत-श्रेणी  प्रमुख शिखर है !

बृहद हिमालय लघु हिमालय से मेन सेंट्रल थ्रस्ट के द्वारा अलग होती है !

3. हिमाचल श्रेणी अर्थात लघु या मध्य हिमालय (Himachal shreni in hindi)

इस श्रेणी में पीरपंजाल, धौलाधार, मसूरी, नागटिबा एवं महाभारत श्रेणी है !

वृहत व लघु हिमालय के मध्य कश्मीर घाटी, लाहुल-स्फीति, कुल्लू एवं कांगड़ा की घाटियाँ मिलती है !

इस श्रणी में अल्पाइन चरागाह है जिन्हे कश्मीर की घाटी में मर्ग तथा उत्तराखंड में वुग्याल या पयार कहा जाता है !

शिमला, कुल्लू, मनाली, मंसूरी, दार्जिलिंग, आदि लघु हिमालय में ही है !

लघु हिमालय शिवालिक से मेन बाउण्ड्री फॉल्ट के द्वारा अलग होती है !

4. शिवालिक अर्थात निम्न या बाह्म हिमालय (Shivalik Himalaya in hindi)

यह हिमालय का निम्नतम भाग है शिवालिक एवं लघु हिमालय के बीच कई घाटियां है जैसे-काठमांडू घाटी !

देहरादून और हरिद्वार शिवालिक के निचले भाग को तराई कहते है !

अरावली की पहाड़ियाँ राजस्थान में है यह सबसे पुरानी चट्टानों से बनी है !

इस पहाड़ी की सबसे ऊँची चोटी माउन्ट आबू पर स्थित गुरुशिखर है इसकी ऊँचाई 1722 मी. है !

अरावली के पश्चिमऔर से माही एवं लूनी नदी निकलती है !

वैसी नदी जो जमीन में ही लुप्त हो जाती है उसे THE RIVER OF EPHEMERAL कहते है !

अरावली के पूर्व की और बनास नदी निकलती है !

मालवा का पठार पश्चिमी मध्य प्रदेश एवं दक्षिण-पूर्व राजस्थान राज्य में है !

यह ज्वालामुखीय चट्टानों का बना हुआ है इससे चम्बल और बेतवा नदी निकलती है !


यह भी पढ़े – विश्व भूगोल (World Geography)


दोस्तों, आज हमने आपको भारत का भूगोल ( Indian Geography in Hindi) की समान्य जानकारी, उत्तरी पर्वतीय मैदान, विशाल मैदान, प्रायद्वीपीय पठार, मरुस्थलीय प्रदेश, समुंद्रतटीय मैदान  के बारे मे बताया, आशा करता हूँ आपको यह Article बहुत पसंद आया होगा और आपको इससे बहुत कुछ सिखने को भी मिला होगा, तो दोस्तों मुझे अपनी राय कमेंट करके बताया, ताकि मुझे और अच्छे-अच्छे आर्टिकल लिखने का सौभग्य प्राप्त हो, मुझे आपके कमेंट का इंतजार रहेगा  !धन्यवाद् !

 

One thought on “भारत का भूगोल की समान्य जानकारी, (Indian Geography in Hindi)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow Us

Follow us on Facebook Follow us on Twitter Follow us on Pinterest Contact us on WhatsApp
%d bloggers like this: