Home इतिहास मुगल साम्राज्य का संपूर्ण इतिहास (हिन्दी में जाने)। The Mughal Empire In...

मुगल साम्राज्य का संपूर्ण इतिहास (हिन्दी में जाने)। The Mughal Empire In Hindi

मुग़ल साम्राज्य (Mughal Empire)

Contents

हेलो दोस्तों, हमारे इस ब्लॉग में आपका स्वागत हैहमारे इस ब्लॉग में आपको आपको मुगल साम्राज्य का संपूर्ण इतिहासMughal Empire In Hindi, बाबर का इतिहास, हुमायूँ , शेरशाह सूरी , अकबर, जहाँगीर, शाहजहाँ का जीवन परिचय, औरंगजेब का इतिहास, मराठो का साम्राज्य Empire of Marathas In Hindi, आदि के बारे में बताएंगे

 

मुगल साम्राज्यThe Mughal Empire In Hindi

 

मुगल साम्राज्य। The Mughal Empire In Hindi
मुगल साम्राज्य। The Mughal Empire In Hindi

 

मुग़ल साम्राज्य (The Mughal Empire in Hindi) का संस्थापक बाबर था

इसने मुग़ल साम्राज्य की स्थापना के साथ ही इसे पादशाही की स्थापना की थी

इसलिए इसे बादशाह कहा जाने लगा

बाबरBabur History In Hindi

बाबर का जन्म फरबरी 1483 ई. में हुआ था

इसने 1507 ई. में बादशाह की उपाधि धारण की थी

इसके 4 पुत्र थे – हुमायूँ,कामरान,असकरी तथा हिंदाल

बाबर ने भारत पर 5 बार आक्रमण किया था

इसने पानीपत के प्रथम युद्ध में पहली बार तुगलमा युद्ध निति एवं तोपखाने का प्रयोग किया था

बाबर को अपनी उदारता के लिए कलंदर की उपाधि दी गयी

इसकी मृत्यु 26 दिसम्बर 1530 ई. आगरा में हुयी थी

इसके शव को प्रारम्भ में आगरा के आरामबाग में दफनाया गया और बाद में काबुल में दफनाया गया

बाबर ने अपनी आत्मकथा बाबरनामा की रचना की थी

चारबाग बनाने की परम्परा की शुरुआत अकबर के समय से हुयी

बाबर को मुंबइयान नामक पदशैली का भी जन्म दाता माना जाता है

बाबर का उत्तराधिकारी हुमायूँ हुआ

हुमायूँ Humayun History in Hindi

1533 ई. में हुमायूँ ने दीनपनाह नामक नए नगर की स्थापना की थी

चौसा का युद्ध 25 जून 1539 ई. में शेर खां एवं हुमायूँ के बीच हुआ, इस युद्ध में शेर खां विजय रहा

बिलग्राम या कन्नौज युद्ध 17 मई 1540 ई. में शेर खां और हुमायूँ के बिच हुआ, इस युद्ध में  भी शेर खां विजय रहा

हुमायूँ की मृत्यु 1 जनवरी 1556 ई. में दीन पनाह भवन में स्थित पुस्तकालय की सीढ़ियों से गिरने के हुयी थी

हुमायूँनामा की रचना गुल-बदन-बेगम ने की थी

शेरशाह सूरी। Sher Shah Suri History in Hindi

शेरशाह का जन्म 1472 ई. में हुआ था

सूर साम्राज्य का संस्थापक शेरशाह सूरी था

इसके बचपन का नाम फरीद खां था

इसने रोहतासगढ़ किला,किला-ए-कुहना नामक मस्जिद का निर्माण करवाया था

इसका उत्तराधिकारी उसका पुत्र इस्लाम शाह हुआ

शेरशाह ने भूमि की माप के लिए 32 अंक वाला सिकंदरी गज और सन की डंडी का प्रयोग किया था

शेरशाहसूरी ने कबूलियत एवं पट्टा प्रथा की शुरुवात की थी

इसने ही 1541 ई. मै ही पाटलिपुत्र को पटना के नाम से पुनः स्थापित किया

शेरशाह ने ही ग्रैंड ट्रंक रोड की मरम्मत करवाई थी

डाक-प्रथा का प्रचलन सेरसाह ने ही करवाया था

सेरसाह के समकालीन मलिक मुहम्मद जायसी थे

अकबरAkbar History in Hindi

अकबर का जन्म 15 अक्टुम्बर 1542 ई. को हुआ था

इसका बचपन का नाम जलाल था

पानीपत की दूसरी लड़ाई 5 नवंबर 1556 ई. को अकबर और हेमू के बिच हुयी थी, इसमें अकबर विजय रहा था

हल्दीघाटी का युध्द 18 जून 1576 ई. को मेवाड़ के शासक महाराणा प्रताप एवं अकबर के बीच हुआ था, जिसमे अकबर विजय रहा था

अकबर का सेनापति मानसिंह था

धर्म  दिन-ए-इलाही का प्रधान पुरोहित अकबर था

दिन-ए-इलाही धर्म स्वीकार करने वाला प्रथम एवं अंतिम हिन्दू शासक बीरबल था

राजस्व प्राप्ति की जब्ती प्रणाली अकबर के शासन काल में प्रचलित थी

राजा टोडरमल ने 1580 ई. में दहसाल बंदोबस्त व्यवस्था लागु की थी

प्रसिद्ध संगीतकार तानसेन अकबर के दरबार में ही था

प्रसिद्ध चित्रकार अब्दुर समद अकबर के दरबार में  ही था

अकबर की शासन प्रणाली की प्रमुख विशेषता मनसबदारी प्रथा थी

इसके समकालीन प्रसिद्ध सूफी संत सेख सलीम चिश्ती थे

इसकी मृत्यु 16 अक्टुम्बर 1605 ई. में हुयी थी

इसके द्वारा बनाई गयी कृतियाँ – आगरा का लालकिला, हुमायूँ का मकबरा, दीवानेखास, पंचमहल, बुलंद दरवाजा, जोधाबाई का महल, लाहौर का किला

अकबर के 9 रत्न – अबुल फजल, फेजी, बीरबल, तानसेन, राजा मानसिंह,टोडरमल, अब्दुल रहीम, खान-ए-खाना, अजीउद्दीन, मुल्ला दो प्याजा 

इसने तानसेन को कण्ठाभरण वाणीविलास की उपाधि दी थी

अकबरनामा ग्रंथ की रचना अबुल फजल ने की थी

बीरबल की हत्या यूसुफजाईयो के विद्रोह को दबाने के दौरान हो गयी थी

इसने ही अनुवाद विभाग की स्थापना की थी

अकबर के काल को हिंदी साहित्य का स्वर्णकाल कहा जाता है

जहाँगीरJahangir History in Hindi

इसका जन्म 30 अगस्त 1569 ई. को हुआ था

जहाँगीर ने ही न्याय की जंजीर चलाई थी

इसने ही खुसरो को सहायता देने के कारण सिक्खो के 5 वे गुरु अर्जुनदेव की हत्या करवा दी थी

जहाँगीर के शासनकाल में ही मुग़ल चित्रकला पर जोर दिया गया

अस्मत बेगम ने गुलाब से इत्र निकलने की विधि खोजी थी

जहाँगीर के 5 पुत्र थे – खुसरो, खुर्रम, परवेज, सहरयार, जहाँदार थे

इसके समय को चित्रकला का स्वर्णकाल कहा जाता है

नूरजहाँ ने ही जहाँगीर के मकबरे का निर्माण करवाया था

जहाँगीर के समय में ही कैप्टन हॉकिन्स, विलियम फिंच, सर टॉमस रो, एवं एडवर्ड टेरी जैसे यात्री आये थे

शाहजहाँ Shah Jahan History In Hindi

शाहजहाँ का जन्म 5 जनवरी 1592 ई. को लाहौर में हुआ था

जहाँगीर के बाद सिंहासन पर शाहजहाँ बैठा था

शाहजहाँ ने ही अपनी बेगम मुमताज महल की याद में ताजमहल का निर्माण आगरा में अपनी कब्र के ऊपर करवाया था 

ताजमहल की रूप रेखा तैयार का श्रेय उस्ताद ईशा को जाता है

उस्ताद अहमद लाहोरी ने  ताजमहल का निर्माण किया था

शाहजहाँ के शासनकाल को स्थापत्यकला का स्वर्णयुग कहा जाता है

इसने ही मयूर सिंहासन का निर्माण करवाया था इसके मुख्य कलाकार बे बादल खां थे

शाहजहाँ द्वारा बनाई गयी प्रमुख इमारते – दिल्ली का लाल किला व जामा मस्जिद, दीवाने आम,  दीवाने खास, आगरा का मोती मस्जिद, ताजमहल और शीश महल आदि है

आगरा की जामा मस्जिद का निर्माण शाहजहाँ की पुत्री जहाँआरा ने कराया

शाह बुलंद इकबाल के रूप मै दारा शिकोह को जाना जाता है

औरंगजेब Aurangzeb History Hindi Mai

औरंगजेब का जन्म 24 अक्टूम्बर 1618 ई.को गुजरात के दोहाद नामक स्थान पर हुआ था

यह सुन्नी धर्म को मानता था, इसलिए इसे जिन्दा पीर कहा जाता है

औरंगजेब के गुरु मीर मुहम्मद हकीम थे

इस्लाम नहीं स्वीकार करने के कारण सिक्खो के 9 वे गुरु तेगबहादुर की हत्या औरंगजेब ने 1675 ई.में दिल्ली  में करवा दी थी

औरंगजेब ने 1679 ई. में जजिया कर को पुनः लागू किया था

बीबी का मकबरा का निर्माण 1679 ई. में औरंगजेब ने औरंगाबाद में करवाया था

1685 ई. में बिजापुर एवं 1687 ई. में गोलकुण्डा को औरंगजेब ने मुग़ल साम्राज्य में मिला लिया था

औरंगजेब ने ही दरबार में संगीत पर पाबन्दी लगा दी थी तथा सरकारी संगीतो को अवकाश दे दिया था ! औरंगजेब स्वयं बीणा बजाने मै माहिर थे

इसने ही 1665 ई. में हिन्दू मंदिरो को तोड़ने का आदेश दिया था

औरंगजेब की मृत्यु 20 फरबरी 1707 ई. को हुयी, इसके समय सुबो की संख्या 20 थी

मराठो का साम्राज्य Maratha Samrajya in Hindi

मराठा साम्राज्य के संस्थापक शिवाजी थे

शिवाजी का जन्म 6 अप्रैल 1627 ई.में शिवनेर दुर्ग में हुआ था

इनके पिता का नाम शाहजी भोसले तथा माता का नाम तुकाबाई मोहिते था

शिवाजी के गुरु कोंडदेव थे

इन्होने रायगढ़ को 1656 ई. में अपनी राजधानी बनाया

शिवाजी को राजा की उपाधि औरंगजेब ने दी थी

इसने सूरत को 1664 ई.एवं 1670 ई. में लूटा था

शिवाजी और महाराजा जयसिंह के मध्य पुरन्दर की संधि 1665 ई. को हुयी थी

इसने पन्हाला दुर्ग को 1672 ई. में बीजापुर से छीना था

3 अप्रैल 1680 ई. को शिवाजी की मृत्यु हो गयी थी

शिवाजी के मंत्रिमंडल को अष्टप्रधान कहा जाता था

इसका उत्तराधिकारी सम्भाजी था

दिल्ली पर आक्रमण करने वाला प्रथम पेशवा बाजीराव प्रथम था, जिसने 1737 ई. को दिल्ली पर धावा बोला था

यह मस्तानी नामक महिला से संबंध होने के कारण चर्चित रहा था

बाजीराव प्रथम की मृत्यु 1740 ई. को हो गयी थी

FAQ SECTION

Q.1. – मुगल साम्राज्य का संस्थापक कौन था?

Ans. – बाबर

Q.2. – चौसा का युद्ध किन – किन बीच हुआ?

Ans. – 25 जून 1539 ई. में शेर खां एवं हुमायूँ के बीच

Q.3. – बिलग्राम या कन्नौज युद्ध किन – किन बीच हुआ?

Ans. – 17 मई 1540 ई. में शेर खां और हुमायूँ के बिच

Q.4. – हुमायूँनामा की रचना की थी?

Ans. – गुलबदन-बेगम ने

Q.5. – सूर साम्राज्य का संस्थापक था?

Ans. – शेरशाह सूरी

Q.6. – ग्रांड ट्रंक रोड की मरम्मत करवाई थी?

Ans. – शेरशाह ने

Q.7. – शेरशाह के समकालीन थे?

Ans. – मलिक मुहम्मद जायसी

Q.8. – पानीपत की दूसरी लड़ाई किन-किन के बीच हुयी थी?

Ans. – 5 नवंबर 1556 ई. में अकबर और हेमू के बीच

Q.9. – हल्दीघाटी का युद्ध किन – किन के बीच हुआ था?

Ans. – 18 जून 1576 ई. को मेवाड़ के शासक महाराणा प्रताप एवं अकबर के बीच

Q.10. – हिंदी साहित्य का स्वर्णकाल कहा जाता है?

Ans. – अकबर के काल को

Q.11. – न्याय की जंजीर चलाई थी?

Ans. – जहाँगीर ने

Q.12. – गुलाब से इत्र निकलने की विधि खोजी थी?

Ans. – अस्मत बेगम ने

Q.13. – जहाँगीर के मकबरे का निर्माण करवाया था?

Ans. – नूरजहाँ ने

Q.14. – ताजमहल की रूपरेखा तैयार की थी?

Ans. – उस्ताद ईशा

Q.15. – ताजमहल का निर्माण किया था?

Ans. – उस्ताद अहमद लाहोरी ने

Q.16 – औरंगजेब के गुरु थे?

Ans. – मीर मुहम्मद हकीम

Q.17. – जजिया कर को पुनः लागू किया था?

Ans. – औरंगजेब ने 1679 ई. में

Q.18. – मराठा साम्राज्य के संस्थापक थे?

Ans. – शिवाजी

Q.19. – शिवाजी को राजा की उपाधि दी थी?

Ans. – औरंगजेब ने

Q.20. – शिवाजी के मंत्रिमंडल को कहा जाता था?

Ans. – अष्टप्रधान

यह भी पढ़े – भारत का प्राचीन इतिहास (Ancient history of india In Hindi)

दोस्तों आज हमने आपको मुगल साम्राज्य का संपूर्ण इतिहास (The Mughal Empire In Hindi), बाबर का इतिहास, हुमायूँ , शेरशाह सूरी , अकबर , जहाँगीर , शाहजहाँ का जीवन परिचय, औरंगजेब का इतिहास, मराठो का साम्राज्य (Empire of Marathas In Hindi) के बारे मे बताया, आशा करता हूँ आपको यह आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा और आपको इससे बहुत कुछ सिखने को भी मिला होगा तो दोस्तों मुझे अपनी राय कमेंट करके बताया ताकि मुझे और अच्छे अच्छे आर्टिकल लिखने का सौभग्य प्राप्त हो मुझे आपके कमेंट का इंतजार रहेगा  !धन्यवाद् !

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here