प्रोटोजोआ क्या है? (Protozoa in hindi)
प्रोटोजोआ क्या है? (Protozoa in hindi)

हेलो दोस्तों, हमारे ब्लॉक में आपका स्वागत है, आज हम जानेंगे की प्रोटोजोआ क्या है? । Protozoa in hindi और प्रोटोज़ोआ के लक्षण, प्रोटोजोआ का वर्गीकरण जानेंगे और मलेरिया परजीवी का जीवन चक्र क्या है?। Malaria Parasite Life Cycle in Hindi यह भी जानेंगे। तो चलिए शुरू करते है।

प्रोटोजोआProtozoa in Hindi

प्रोटोजोआ। Protozoa in hindi
प्रोटोजोआ। Protozoa in hindi

प्रोटोजोआ क्या है?Protozoa in Hindi

प्रोटोजोआ सबसे आदिकालीन एवं साधारण जंतुओं का संघ है, जिसमें एक कोशिका जंतु को रखा जाता है। इस समूह के अंतर्गत आने वाले जंतु एक केंद्रीय या बहूकेंद्रीय, विषमपोषी होते हैं। प्रोटोजोआ नाम गोल्डफस द्वारा दिया गया। एक कोशिका होने के बावजूद भी प्रोटोजोआ जीवन की सभी क्रियाए तथा पाचन, उत्सर्जन एवं प्रजनन उसी तरह सुचारू रूप से कर लेते हैं, प्रोटोजोआ संघ के अंतर्गत लगभग 80000 जातियां आती है।

प्रोटोजोआ के लक्षणProtozoa Symptoms in hindi

  • 1. यह अत्यंत सूक्ष्म, स्वतंत्रजीवी, सहजीवी परजीवी  होते हैं।
  • 2. एक कोशिकीय शरीर का जीव द्रव्य, बाह्य द्रव्य तथा अन्तः द्रव्य में विभेदित होता है।
  • 3. प्रचलन कूटपाद पक्षमो या कशाभिका द्वारा होता है।
  • 4. यह एक केन्द्रकीय या बहुकेन्द्रकीय होते हैं।
  • 5. संकुचनशील रसधानी मृदुजलीय प्रोटोजुआ में ही पाया जाता है।
  • 6. इस समुदाय के जीव कलिकायन द्विविखण्डन बहुविखण्डन कभी कभी सयुग्मन के द्वारा प्रजनन करते है।

प्रोटोजोआ का वर्गीकरणClassification of Protozoa in Hindi

वर्ग-1 – जूफलेजेलेट्स

  • 1. प्रचलन के लिए एक या अधिक चाबुक कशाभिका होती है
  • 2. इनमें कूटपाद मौजूद रहता है और नहीं भी
  • 3. जीव यूग्लीना संरचना वाले तथा पर्णहरित रहित होते है
  • 4. इसमें विषमपोषी पोषण, अवशोषण या PHAGOCYTOSIS क्रिया के द्वारा होता है
  • 5. यह निश्चित आकृति वाले होते हैं तथा लंबवत विखंडन की क्रिया के द्वारा अलैंगिक प्रजनन करते हैं
  • 6. जीव स्वतंत्रजीवी या परजीवी तथा सहजीवी होते हैंउदाहरण – ट्रिपैनोसोमा, लिश्मानिया, ट्राइकोनिम्फा

वर्ग-2 – सार्कोडाइन्स

  • 1. प्राय स्वतंत्रजीवी होते हैं
  • 2. प्रचलन फुटपाथ द्वारा होता है
  • 3. आकार सामान्य परिवर्तनशील होता है
  • 4. इनके शरीर पर पेलिकल नहीं पाया जाता है लेकिन कुछ सार्कोडाइन्स के चारो तरफ से सिलिका का कवच स्थापित होता है उदाहरण – अमीबा, रेडिएलेरिया

वर्ग-3 – स्पोरोजोआ

  • 1. इनमें प्रचलन अंग नहीं होते हैं।
  • 2. सभी परजीवी होते हैं।
  • 3. जीवन चक्र में बीजाणु जनन पाया जाता है।
  • 4. कायिक अवस्था में अमीबा की तरह दिखलाई देते हैं। उदाहरण – प्लाज्मोडियम।

वर्ग-4 – सिलीएटा

  • 1. इस वर्ग के जीवो में सिलिया पूरे शरीर या इसके कुछ भागों पर पाए जाते हैं।
  • 2. इनकी कोशिकाओं में दो असमान स्वभाव वाले केंद्रक उपस्थित होते हैं।
  • 3. इनके शरीर में पेलिकल आवरण के रूप में उपस्थित होता है।
  • 4. गुरु केंद्रक में स्पष्ट गुणसूत्र नहीं पाए जाते हैं बल्कि इसमें अनुवांशिक पदार्थ गुच्छो के रूप में उपस्थित होते हैं।
  • 5. प्रजनन से संबंधित समस्त सक्रियता का निर्धारण लघु केन्द्रक करता है इसमें गुणसूत्र के विशेष सेट पाए जाते हैं।

उदाहरण – पैरामीशियम।

सहजीवी प्रोटोजोआ 

दो जीवो का परस्पर फायदे के लिए साथ होने की प्रक्रिया सहजीविता कहलाते हैं। प्रोटोजोआ की कुछ जातियाँ सहजीवी स्वरूप में अपना जीवन चक्र पूरा करती है। जैसे – दीमक की आहार नाल में ट्राईकोनिंबा नामक प्रोटोजोआ सहजीवी के रूप में होता है। यह प्रोटोजोआ सैलूलोज को विघटितकरने वाले एंजाइम का निर्माण कर दिमाग को उपलब्ध करता है तथा बदले में उसे भोजन तथा जीवित रहने हेतु स्थल प्राप्त करता है। यह प्रोटोजोआ इस प्रकार दीमक को लकड़ी खाने तथा उसे शीघ्रता से पचाने की शक्ति प्रदान करता है।

परजीवी प्रोटोजोआ

प्रोटोजोआ समूह के कुछ जीव परजीवी भी होते हैं। अतः दूसरे सजीव से पोषण प्राप्त करते हैं परजीवता के क्रम में पोषक बीमारी का शिकार हो जाता है। प्रोटोजोआ के सभी वर्गों के कुछ जीव परजीवी के रूप में पाए जाते हैं लेकिन वर्ग स्पोरोजोआ के प्राय सभी जीव दूसरे जीव पर परजीवी के रूप में पाए जाते हैं इसी कारण इसे परजीवी प्रोटोजोआ वर्ग भी कहते हैं। ऐसे परजीवी में उसके शरीर के चारों तरफ आवरण के रूप में स्थित पैलिकल उसे पोषक के शरीर में या उससे स्त्रावित होने वाले एन्ज़ाइम से प्रति रक्षा करता है यदि परजीवी का जीवन चक्र दो जीवो में पूर्ण होता है तो एक जीव वाहक का कार्य करता है। उदाहरण – मलेरिया परजीवी को मनुष्य के शरीर में स्थापित करने के लिए मादा एनाफिलीज वाहक का कार्य करती है।

मलेरिया परजीवी का जीवन चक्र Malaria Parasite Life Cycle in Hindi

 

मलेरिया परजीवी का जीवन चक्र । Malaria Parasite Life Cycle in Hindi
मलेरिया परजीवी का जीवन चक्र । Malaria Parasite Life Cycle in Hindi

मलेरिया परजीवी का जीवन चक्रMalaria Parasite Life Cycle in Hindi

मनुष्य प्लाज्मोडियम का प्राथमिक पोषक होता है। मनुष्य के लाल रक्त कणिकाओं में इसकी अमीबॉयड अवस्था पाई जाती है जिसमें अगुणित रचना गेमेटोसाइट्स पैदा होती है। मादा मच्छर जब मनुष्य का रक्त चूसती है तब परजीवी रक्त के साथ मच्छर के अमाशय में पहुंच जाता है तथा विकसित होकर वहां युग्मक का निर्माण करता है। नर तथा मादा युग्मक निषेचन के पश्चात आपस में मिलकर युग्मनज बना देते हैं जो कि अमाशय की दीवार में सिस्ट के रूप में रूपांतरित हो जाता है। सिस्ट से अनेक स्पोरोजोइट बनते हैं जो कि मच्छर की लार ग्रंथि में एकत्रित होते रहते हैं जब इस प्रकार की मादा एनाफिलीज मच्छर किसी स्वस्थ मनुष्य का रक्त चूसती है तो स्पोरोजोइट मच्छर के लार से होकर मनुष्य के रक्त में पहुंच जाते हैं तथा अमीबॉयड अवस्था में परिणित हो जाते हैं। लाल रुधिर कणिकाओं में इनका बार-बार विखंडन होता है जिसके कारण जहरीला पदार्थ रक्त में मिलता रहता है जिसके परिणाम स्वरूप ठंड लगकर कपकपी के साथ तेज बुखार होता है जिसे मलेरिया बुखार कहते हैं।

FAQ Section

प्रोटोजोआ के अध्ययन को क्या कहते हैं?

प्रोटोज़ोआ एककोशिकीय जीव है। इनकी कोशिका यूकरयोटिक प्रकार की होती है। कुछ प्रोटोज़ोआ जन्तुओं में रोग उत्पन्न करते हैं, उन्हे रोगकारक प्रोटोज़ोआ भी कहते हैं।

प्रोटोजोआ से कौन सा रोग होता है?

प्रवाहिका/अतिसार (Diarrhoea/Giardiasis)

प्रोटोजोआ का अर्थ बताओ?

प्रोटोजोआ छोटे, एक कोशिका वाले जानवर होते है जो नम वातावरण में रहते हैं, जैसे – तालाब, दलदल और मिट्टी आदि , ये खुद से जीवित रह सकते हैं या कभी-कभी एक परजीवी के रूप में ये बड़े पौधे या जानवर के अंदर रहते है

प्रोटोजोआ इन्फेक्शन क्या है?

एंटअमीबा हिस्टोलिटिका एक Microorganism है, जो अपना जीवन परजीवी के रूप में बिताता है। इसी इंटेस्टाइनल प्रोटोजोआ पैरासाइट के कारण एमीबायसिस रोग होता है। ये माइक्रोस्कोपिक orgenism अमीबा की एक प्रजाति है, जो फाइलम protozoa के तहत आता है।

यूग्लीना में कौन सा चलन अंग होता है?

यूग्लीना के चलन अंग फ्लैजिला (Flagella) होते हैं

अमीबा के जनक कौन है?

एक अमीबोइड जीव का सबसे पहला रिकॉर्ड 1755 ई. में अगस्त जोहान रोसेल वॉन रोजेनहोफ द्वारा बनाया गया था, जिसने अपनी खोज “डेर क्लेन प्रोटीस” नाम दिया था।

Read Moreजीवाणु किसे कहते हैं?

तो दोस्तों, आज हमने बताया की प्रोटोजोआ क्या है? (Protozoa in hindi) और प्रोटोज़ोआ के लक्षण, प्रोटोजोआ का वर्गीकरण और मलेरिया परजीवी का जीवन चक्र (Malaria Parasite Life Cycle in Hindi) क्या है, इन सबके बारे में बताया है आशा करते है की आपको हमारा ये आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा, तो दोस्तों आप अपनी राय कमेंट के माध्य्म से दे सकते है, धन्यवाद

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here