विसरण (Visran in Hindi)
विसरण (Visran in Hindi)

हेलो दोस्तों, हमारे ब्लॉक में आपका स्वागत है, आज हम जानेंगे की विसरण किसे कहते हैं? (Visran in Hindi) और विसरण को प्रभावित करने वाले कारक, और विसरण दाब क्या होता है पौधों में विसरण का महत्व भी जानेंगे। तो चलिए शुरू करते है!

विसरण (Visran in Hindi)

 

(Visran in Hindi)
(Visran in Hindi)

 

विसरण किसे कहते हैं, उदाहरण सहित समझाइये। (Visran in Hindi)

जब किसी विलेय को किसी विलायक में रखा जाता है तो विलेय विलायक में घुलने लगता है तथा इसके कण वितरित होकर संपूर्ण पात्र में समान रूप से फैल जाते हैं यह क्रिया विसरण के कारण होती है पदार्थ के अणुओ का प्रवाह सदैव अधिक सांद्रता वाले बिलियन से कम सांद्रता वाले विलयन की ओर होता है इस क्रिया को विसरण कहते हैं

उदाहरण के लिए – जब किसी परफ्यूम की शीशी को कमरे के एक कोने पर खोला जाता है तो कुछ समय पश्चात कमरे के अन्य कोनों में इत्र की खुशबू आने लगती है इसी प्रकार जब जल में विलय किसी रंजक जैसे कॉपर सल्फेट, पोटेशियम परमैंगनेट आदि के रवो को जल से भरे बीकर में डाला जाता है तो सर्वप्रथम रंजक के आसपास गहरे रंग का एरिया दिखाई देता है जोकि धीरे-धीरे संपूर्ण बीकर में फैलने लगता है और अंत में वह संपूर्ण बीकर में समान रूप से वितरित हो जाता है

विसरण एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें किसी गैस, ठोस अथवा द्रव के अणु अपने अधिक सांद्रता वाले बिलियन से कम सांद्रता वाले विलयन की ओर गति करते हैं गैस , द्रव और ठोस तीनों प्रकार के पदार्थों में विसरण की क्रिया होती है गेसो का विसरण गैसों में बहुत तेजी से होता है क्योंकि गैसों के अणुओं के दूर दूर स्थित होने के कारण उनके बीच का आकर्षण बल काफी कम होता है, द्र्वो का विसरण अपेक्षाकृत धीमी गति से होता है क्योंकि उनके कण काफी नजदीक स्थित होते हैं लेकिन ठोसों का विसरण नहीं के बराबर होता है क्योंकि इनके कण एकदम पास पास स्थित होते हैं

विसरण को प्रभावित करने वाले कारक

1. विसरण करने वाले पदार्थ का घनत्व

गैसों एवं पदार्थों के अणु के विसरण की दर उनके घनत्व के वर्गमूल के विलोम अनुपाती होती है, इसका अर्थ यह है कि किसी भारी गैसों एवं अधिक घनत्व वाले गैसों एवं पदार्थों का विसरण कम घनत्व वाली गैसों एवं पदार्थों की अपेक्षा धीमी गति से होता है

2. विसरण माध्यम का घनत्व

विसरण करने वाले माध्यम का घनत्व अधिक होने पर विसरण की दर कम हो जाती है

3. तापक्रम

विसरण करने वाले माध्यम का तापक्रम बढ़ने पर उसमें उपस्थित कणों की गतिज ऊर्जा बढ़ने के कारणों की विसरण की दर में भी वृद्धि हो जाती है

4. विसरण दाब प्रवणता

विसरण तंत्र में उपस्थित दोनों तरफ के मध्य विसरण दाब प्रवणता अधिक होने पर विसरण के दर वृद्धि होती है

अणुओ का उनकी उच्च ऊर्जा वाले क्षेत्र से कम मुक्त ऊर्जा वाले क्षेत्र की ओर प्रवाह या गति होना विसरण कहलाता है

विसरण दाब

विसरण करने वाले आयन एवं अणुओ के कारण विसरण माध्यम में एक दाब उत्पन्न होता है जिसे विसरण दाब कहते हैं विसरण दाब, विसरण करने वाले अणुओं की संख्या या सांद्रता के समानुपाती होता है, यही कारण है कि विसरण क्रिया सदैव अधिक विसरण दाब वाले क्षेत्र से कम विसरण दाब वाले क्षेत्र की ओर होता है यह एक सैद्धांतिक शब्द है गैस से भरे गुब्बारे के अंदर उपस्थित गैस का विसरण दाब उसके बाहर उपस्थित गैस के विसरण दाब से सदैव कम होता है यदि किसी कारणवश गुब्बारा फट जाता है तो अत्यधिक विसरण दाब के कारण गुब्बारे के रंग बाहर उपस्थित गैसों में विसरित हो जाती है इसी प्रकार किसी विलायक का विसरण दाब एक विलयन में उपस्थित विलायक के विसरण दाब से हमेशा अधिक होता है

पौधों में विसरण का महत्व

1. वाष्पोत्सर्जन क्रिया विसरण के कारण होती है क्योंकि इस क्रिया में जल के अणु पौधे के वायवीय भागो से जलवाष्प के रूप में वातावरण में विसरित होते हैं

2. पौधों में लवणों एवं आयनो का अवशोषण विशेष प्रकार की विसरण क्रिया के द्वारा ही होता है जिसे परासरण कहते हैं

3. पौधों में गैसीय आदान प्रदान की सभी क्रिया विसरण के द्वारा ही संपन्न होती है

4. विसरण क्रिया पौधों में आयनो एवं खाद पदार्थों के स्थानांतरण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है

5. पौधों के विभिन्न भागों में पाए जाने वाले वाष्पशील एरोमेटिक योगिक की खुशबू हमें उनके विसरण के कारण ही प्राप्त होती है इससे कीट परागण में आसानी होती है

FAQ

1. तापमान बढ़ने से कणों की गति पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

ANS – गति तेज हो जाती है

2. पदार्थ की कितनी अवस्थाएं होती हैं ?

ANS – 3

3. विसरण की दर सबसे अधिक किसमे होती है ?

ANS – गैस

4. खाना बनाने में उपयोग किये जाने वाले सिलिंडर में कौन -सी गैस होती है ?

ANS – L.P.G.

5. LPG का पूरा रूप क्या है ?

ANS – द्रवीकृत पेट्रोलियम गैस

6. वाहनों में ईंधन के रूप में कौन-कौन सी गैस उपयोग होती है ?

ANS – C.N.G

7. C.N.G का पूरा रूप क्या है ?

ANS – संपीडित प्राकृतिक गैस

8. बर्फ का गलनांक कितना है ?

ANS – 273.15k

9. जल का क्वथनांक कितना होता है ?

ANS – 373k

10. ठोस कार्बन डाइऑक्साइड को क्या कहते है ?

ANS – शुष्क बर्फ

Read More – पादप हार्मोन क्या है? (Plant Hormones in Hindi)

Read MoreASA NGO Job Circular

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here